• Sat. Jul 13th, 2024

नोएडा में बन रहे जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट का मुख्य सचिव ने किया निरक्षण,जारी किए दिशा निर्देश

Report By : Ankit Srivastav, ICN Network

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की साइट का शुक्रवार को मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश दुर्गा शंकर मिश्र ने निरीक्षण किया। विकासकर्ता जुरिक एयरपोर्ट की एसपीवी यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड ने बताया कि परियोजना के लिए डेवलपमेंट प्लान के अनुसार एयरपोर्ट के विकास के लिए ईपीसी कांट्रैक्टर टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड से एटीसी बिल्डिंग के कम्पलीशन का कार्य चल रहा है।

माह अगस्त तक बिल्डिंग को एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को एटीसी इक्विपमेंट लगाने के लिए हस्तगत कर देंगे। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने अवगत कराया कि इक्विपमेंट के इंस्टालेशन का काम सितम्बर तक पूरा हो जाएगा। रनवे पर और एप्ररेन पर वर्तमान में इलेक्ट्रिक लाइट का काम चल रहा है। रनवे के पास नेविगेशन इक्विपमेंट के साथ-साथ ग्लाइड पाथ एंटेना और लोकलाइजर लगाए जा चुके हैं।

इस पर मुख्य सचिव ने निर्देश दिया कि सभी तरह के इक्विपमेंट जिसे एअरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा लगाया जाना है उसे माह सितंबर तक पूरा कर लिया जाए। टर्मिनल बिल्डिंग के निरीक्षण के समय कंसेशनेयर द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में फसेड और रूफ का कार्य प्रगति पर है और पियर पर फिनिशिंग का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। ऑटोमेटेड बैगेज हैंडलिंग सिस्टम के इंस्टालेशन का कार्य भी चालू है।

37 मिलियन सेफ वर्क ऑवर का कार्य सफलता पूर्वक किया गया है। इस पर मुख्य सचिव ने निर्देश दिए की एयरपोर्ट का विकास माइलस्टोन के अनुसार समय से माह सितम्बर 2024 तक पूर्ण कर प्रत्येक दशा में माह दिसम्बर तक एयरपोर्ट का कॉमर्शियल ऑपरेशन शुरू किया जाए।

निरीक्षण के बाद समीक्षा बैठक की गई। बैठक में जेवर एयरपोर्ट के लिए सीआईएसएफ़, सीएनएसएटीएम, सिक्योरिटी और डीजीसीए से संबंधित बिंदुओं पर चर्चा की गई जिसमें सम्बंधित केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों ने प्रतिभाग किया। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि कंसेशनयर सभी विभागों की आवश्यकता और प्रचलित नियमों के अनुसार कार्रवाई कराए और समस्या का निस्तारण सितंबर तक पूरा कराएं।

मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि एयरपोर्ट का कॉमर्शियल ऑपरेशन प्रत्येक दशा में माह दिसंबर में शुरू होना है। इसके लिए कंसेशनयर, टाटा प्रोजेक्ट लिमिटेड के साथ बैठक कर कैचअप प्लान 15 जुलाई तक प्रस्तुत करें। उन्होंने निर्देश दिए की फारेस्ट डिपार्टमेंट रेस्क्यू सेंटर का कार्य प्राथमिकता में पूरा कराएं। निरीक्षण और बैठक में सीईओ नायल डॉ. अरुणवीर सिंह, मनीष वर्मा डीएम, नोएडा इंटरनेशनल एअरपोर्ट लिमिटेड (नायल) के नोडल ऑफ़िसर शैलेंद्र भाटिया, कंसेशनयर यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड की सीईओ क्रिस्टोफ सैल्मन, चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर किरन जैन, केंद्रीय एजेंसी के अधिकारीगण और प्राधिकरण के एसीइओ कपिल सिंह और विपिन जैन उपस्थित रहे।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *