• Thu. Jun 13th, 2024

UP-बिजनौर में लापता बेटे की आस में परिवार सालों से कर रहा बेसब्री से इंतज़ार,रोते-रोते परिवार के आँखों के आंसू सूखे

यूपी के बिजनौर- में 19 साल पहले घर से अलविदा जुम्मे की नमाज पढ़ने गये लापता सीपीएमटी के छात्र का आज तक नही लगा सुराग।छात्र के माता-पिता को आज भी अपने गुमशुदा बेटे की तलाश है।पिता ने बताया उसको हमने हर जगह तलाश किया लेकिन आज भी हमारे हाथ खाली है। जबकि बेटे की बरामदगी के लिए,पुलिस में भी कार्रवाई के लिए तहरीर दी लेकिन पुलिस भी पता लगाने में नाकाम ही साबित हुई है।

बिजनौर के थाना कोतवाली शहर इलाके के मोहल्ला अचारजान में रहने वाले अखलाकुर रहमान का पुत्र गुलजार अहमद 12 नवम्बर 2004 को अलविदा जुम्मा की नमाज पढ़ने के लिए घर से गया था।लेकिन आज तक भी गुलज़ार वापस घर नहीं लौटा।अखलाकुर रहमान ने बताया उनका बेटा मेरठ से सीपीएमटी की कोचिंग कर रहा था।और अपने घर आया हुआ था।लेकिन 12 नवम्बर 2004 से अलविदा जुम्मे की नमाज के बाद वह घर वापस नहीं लौटा।उन्होंने बेटे गुलज़ार को हर जगह तलाश किया। थक हार कर उस वक्त पुलिस को तहरीर देकर उसको बेटे को बरामद करने की गुहार लगाई।लेकिन पुलिस भी गुलजार को बरामद करने में नाकाम साबित हुई।गुलजार के माता-पिता उसका फोटो देखकर आज भी उसको याद करते रहते हैं,और आज भी उनकी यही आस लगी हुई है कि जल्द उनका बेटा गुलजार वापस घर आ जाए। अखलाकुर रहमान ने बताया गुलजार का कद 5 फीट 2 इंच,रंग हल्का काला,बादामी रंग का कुर्ता पजामा,गहरे रंग की सालेटी जैकेट पहन कर घर से निकला था।आखिर 19 साल बीत जाने के बाद भी गुलजार का कोई अता-पता नहीं लग सका,बेटे का दर्द दिल के अंदर लेकर मां-बाप एक संघर्ष जीवन जीने के लिए मजबूर नजर आ रहे हैं।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *