• Mon. Jun 17th, 2024

कानपुर में MPMLA कोर्ट सपा विधायक इरफान सोलंकी को सुना सकती है सजा, कोर्ट ने इरफान समेत 5 को दिया है दोषी करार

Report By : Rishabh Singh, ICN Network

कानपुर की MP/MLA कोर्ट ने जाजमऊ आगजनी केस में 3 जून को सपा विधायक इरफान सोलंकी समेत 5 आरोपियों को दोषी करार दिया था। इरफान की पेशी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई थी। अब 7 जून यानी आज सजा सुनाई होगी। सभी को धारा 147, 436, 427, 504, 506, 323 में दोषी ठहराया गया था। दोषी करार देने के बाद इरफान के समर्थकों ने परिवार वालों के साथ कोर्ट परिसर में हंगामा था।

धारा-386, 120B से सभी दोष मुक्त कर दिए गए थे। सबसे प्रमुख आईपीसी की धारा-436 है। इसमें कम से कम 10 साल की सजा और अधिकतम उम्रकैद हो सकती है। इरफान सोलंकी को 2 साल से ज्यादा की सजा होते ही उनकी विधानसभा की सदस्यता भी जाना तय माना जा रहा है। इससे पहले 11 बार तारीख देने के बाद भी कोर्ट ने फैसला नहीं दिया था।

जाजमऊ के डिफेंस कॉलोनी में रहने वाले इरफान सोलंकी कानपुर की सीसामऊ विधानसभा से सपा से चौथी बार के विधायक हैं। इरफान के घर के पास ही रहने वाली महिला नजीर फातिमा का जिस प्लॉट पर अस्थाई घर बना था।

उस प्लॉट को लेकर दोनों का विवाद चल रहा था। नजीर फातिमा ने 8 नवंबर 2022 को जाजमऊ थाने में इरफान, रिजवान समेत अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

आरोप था, 7 नवंबर 2022 को रात 8 बजे उसका परिवार भाई की शादी में गया था। तभी सपा विधायक इरफान सोलंकी, उनके भाई रिजवान सोलंकी और उनके साथियों ने घर में आग लगा दी।

साजिश के तहत ऐसा किया गया, जिससे वह घर छोड़कर भाग जाए।

विधायक परिवार उस पर कब्जा कर लें। आग से गृहस्थी, फ्रिज, टीवी, सिलेंडर और बाकी गृहस्थी का सामान पूरी तरह से जलकर खाक हो गया था।

कानपुर की MP/MLA कोर्ट ने जाजमऊ आगजनी केस में सपा विधायक इरफान सोलंकी समेत 5 आरोपियों को दोषी करार दिया है। सभी को धारा 147, 436, 427, 504, 506, 323 में दोषी ठहराया गया है। धारा 386, 120B से सभी दोष मुक्त कर दिए गए हैं। केस में सबसे गंभीर धारा आईपीसी की धारा 436 है। इसमें कम से कम 10 साल की सजा और अधिकतम उम्रकैद हो सकती है।

इरफान सोलंकी केस में पांच आरोपियों को कोर्ट ने 3 जून को दोषी करार दिया तो परिवार के लोगों ने कोर्ट परिसर में हंगामा काट दिया था। पुलिस ने कड़ी मशक्कत से सभी परिवार के लोगों को संभाला और कोर्ट परिसर से बाहर किया था।

इसके चलते शुक्रवार को कोर्ट में भारी फोर्स तैनात किया जाएगा। इससे कि दोबारा इस तरह की स्थिति नहीं बन सके, वहीं, दूसरी तरफ शहर में भी अलर्ट घोषित किया गया है। शहर के सेंसटिव इलाकों में पैरामिलिट्री फोर्स रूट मार्च करेगी।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *