• Sat. Jul 13th, 2024

नोएडा में बारिश में न हो जलभराव इसलिए 24 घंटे नाले की सफाई में कर्मचारी कार्य में लगे

Report By : Ankit Srivastav, ICN Network

नोएडा में बारिश के दिनों में जलभराव की स्थिति न हो इसके लिए प्राधिकरण ने नालों की साफ-सफाई का काम युद्ध स्तर पर शुरू किया है। नालों की साफ-सफाई के लिए नोएडा में 8 पॉक्लेन मशीन, 41 जेसीबी, 30 हाइवा, 102 ट्रैक्टर ट्राली और 240 सफाई कर्मचारी लगाए गए है। इसके अलावा 3 सुपर शकर मशीन लगाकर जाम हुई कल्वर्ट को खुलवाया जा रहा है।

नोएडा के सेक्टर-62 और 63 के आंतरिक नालों की कल्वर्ट की सफाई का कार्य कराया गया। इसके अलावा सेक्टर-23 व 24 के बीच मुख्य नाले की सफाई, खोड़ा लैबर चौक से रजत विहार नाले की सफाई, सुरभि अस्पताल के निकट बड़े नाले की सफाई, बरौला में बड़े नाले की सफाई, काशी राम आवास योजन सेक्टर-45 की सफाई, कंचनजंघा मार्केट सेक्टर-53 में नाले की सफाई के साथ सेक्टर-34 से 52 के मुख्य नाले भंगेल, सलारपुर, नया बांस सेक्टर-135,105,137,125,122,76,150 में सफाई का कार्य किया गया।

प्राधिकरण के डीजीएम एसपी सिंह ने बताया कि शहर में कुल 153 ड्रेन है। जिनकी लंबाई 298 किमी है। इन ड्रेन को साफ करने के लिए करीब 11.17 करोड रुपए खर्च किए जा रहे है। 10 जुलाई तक पूरा काम हो जाएगा। पहले फेज में कुल 73 ड्रेन जिनकी लंबाई 148 किमी है। इसकी सफाई के लिए 5.50 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे है। दूसरे फेज में कुल 80 ड्रेन में 149.75 किमी की लंबाई में कुल 5.67 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
24 घंटे नालों की सफाई का काम किया जा रहा है। इसके लिए अलग-अलग टीम का गठन किया गया है।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *