• Mon. Feb 26th, 2024

UP-मथुरा के डॉक्टर अमन कुमार का कहना माता पिता के लिए बच्चो की देखभाल बेहद ज़रूरी

यूपी के मथुरा के जाने माने डॉक्टर बाल रोग विशेषज्ञ अमन कुमार ने सर्दी की दस्तक शुरू होते ही बच्चे निमोनिया खांसी के शिकार हो रहे है ऐसे में डॉक्टर ने बच्चो को ठंड से बचाने के उपाय बताए। मौसमी मार से मासूमो को बचाव के लिये ठंडे पेय पदार्थ न दे, माता -पिता

सर्दी का मौसम शुरू होते ही मासूम बच्चों में मौसमी बीमारियों का प्रकोप शुरू हो जाता है मौसमी बीमारियों से बचाव करने से ही मासूम बच्चों को सर्दी,जुकाम,खाँसी और वायरल बुखार जैसी बीमारियों से बचाया जा सकता है मौसम की सबसे अधिक मार छोटे मासूम बच्चों पर ही पड़ती है जैसे ही मौसम करवट लेता है बच्चे सर्दी जुकाम व खांसी वह वायरल बुखार की चपेट में आ जाते हैं इसी को ध्यान में रखते हुए हमारे संवाददाता पवन शर्मा द्वारा ग्राउंड जीरो पर एक रिपोर्ट तैयार की गई है आमतौर पर वायरल बुखार, सर्दी खांसी,इन्फेक्शन और अन्य संक्रमण होने लगते हैं।ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बच्चों की इम्यूनिटी कमजोर होती है। ऐसे में पेरेंट्स को बच्चे की देखभाल व जीवनशैली का विशेष ध्यान रखना पड़ता है,ताकि बच्चे कमजोर न हों और बीमार न पड़ें।इन सभी बातों का ख़्याल रखने के दौरान चिकित्सकीय सलाह बेहद आवश्यक है। जिला अस्पताल के बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अमन कुमार का कहना है कि मौसमी बुखार, सर्दी,जुकाम व खांसी से मासूम बच्चों को बचाने के लिए उन्हें गर्म कपड़े पहनाये है इसी के साथ मासूम बच्चों को ठंडे पेय पदार्थ से बचाव करना आवश्यक है क्योंकि ठंडे पेय पदार्थ बच्चों को ज्यादा प्रभावित करते हैं बाल रोग विशेषज्ञ का कहना है कि इसी के साथ बच्चों को टोपा भी पहन कर रखें ताकि उन्हें मौसम की मार से बचाया जा सके उन्होंने छोटे बच्चों के माता-पिता को सलाह दी है कि वह धूल मिट्टी से भी बचाव करें ताकि बच्चों को एलर्जी होने से बचाया जा सके।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *