• Mon. Feb 26th, 2024

UP- 35 सालों से रामचरित मानस का पाठ कर रहे मोहम्मद इस्लाम, प्राण प्रतिष्ठा को लेकर कही ये बात

यूपी के मिर्ज़ापुर के रहने वाले मोहम्मद इस्लाम अयोध्या में हो रहे रामलला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से बेहद खुश हैं। वे कहते हैं कि यह मंदिर बहुत पहले ही बन जाना चाहिए था। प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या भगवान राम के दर्शन के लिए जाएंगे।

मुस्लिम होकर भी पिछले 35 सालों से मोहम्मद इस्लाम रामचरित मानस का पाठ कर रहे हैं। रामलीला में रामचरित मानस का पाठ करते हैं तो लोग अपने घरों में उन्हें रामचरित मानस का पाठ करवाने के लिए बुलाते हैं। मोहम्मद इस्लाम अयोध्या में हो रहे रामलला के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से बेहद खुश हैं। वे कहते हैं कि यह मंदिर बहुत पहले ही बन जाना चाहिए था। प्राण प्रतिष्ठा के बाद अयोध्या भगवान राम के दर्शन के लिए जाएंगे।प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम से हैं खुश उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर के पहाड़ी ब्लाक के धर्मदेवा गांव के रहने वाले मोहम्मद इस्लाम मुस्लिम होते हुए भी भगवान राम की उपासना करते हुए रामचरित मानस का पाठ करते हैं। उन्हें मानस पाठ करते देख कोई समझ ही नहीं पता की वह मुस्लिम हैं।

इसकी शुरुआत बचपन से तब हुई जब वह गांव में अपने साथियों के साथ सुंदर कांड का पाठ करने जाते थे। उनका मन रामचरित मानस के पाठ में ऐसा रमा की गांव में होने वाली रामलीला में गांव वालों ने उन्हें मानस का पाठ करने के लिए व्यास की भूमिका दे दी। इसके बाद तो उन्हें लोग अपने घरों में रामचरित मानस का पाठ करने व कीर्तन में बुलाने लगे।अब उन्हें यह पूरी तरह से कंठस्त भी हो गया है इस्लाम अपने साथियों के साथ हिन्दू परिवार के घरों में जाते हैं। रामचरितमानस का पाठ करते हैं। दशकों से रामचरित मानस का पाठ करने के कारण अब उन्हें यह पूरी तरह से कंठस्त भी हो गया है। अयोध्या में 22 जनवरी को भगवान श्री राम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम कोलेकर बेहद उत्साहित मोहम्मद इस्लाम का कहना है कि भगवान का यह मंदिर बहुत पहले ही बन जाना चहिए था। 22 के बाद भगवान का दर्शन करने अयोध्या जरूर जाएंगे।

By ICN Network

Ankit Srivastav (Editor in Chief )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *