• Fri. Jun 14th, 2024

शजाहांपुर ढाबे पर खड़ी बस में तेज रफ्तार डंपर ने मारी टक्कर 12 लोगो की हादसे में हुई मौत, पूर्णगिर दर्शन करने जा रहे थे लोग

Report By : Rishabh Singh, ICN Network

शाहजहांपुर में भीषण सड़क हादसे में बस सवार 12 यात्रियों की मौत हो गई। हादसा तब हुआ जब बस ढाबे पर खड़ी थी। पीछे से आ रहे तेज रफ्तार डंपर ने टक्कर मारी और बस पर पलट गया। हादसे में 10 यात्री घायल भी हैं।

बस सवार यूपी के सीतापुर से उत्तराखंड में मां पूर्णागिरी मंदिर जा रहे थे। करीब 80 लोग सवार थे। हादसे के वक्त ज्यादातर यात्री बस के नीचे उतरे हुए थे। कुछ अंदर सो रहे थे। डंपर में गिट्टी लदी थी, टक्कर के बाद बस में गिट्टी भर गई। अंदर लोग फंस गए।

हादसा शनिवार रात 11 बजे के करीब हुआ। आसपास के लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी। यात्रियों को बाहर निकालने की कोशिश कर रहे थे तभी पुलिस भी पहुंची। यात्री अंदर इस कदर फंसे हुए थे कि निकालना मुश्किल हो रहा था। कोई डंपर के नीचे तो कोई बस की सीट में फंसा हुआ था।

भयानक हादसा देखकर पुलिस ने और फोर्स बुलाई। तुरंत क्रेन और JCB को मंगवाया गया। तब जाकर डंपर और बस को अलग किया गया। करीब 5 घंटे तक चले रेस्क्यू में बस में फंसे लोगों को बाहर निकाला गया। घायलों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया ।

लोगो ने बताया बस ऋषि ढाबे के सामने सड़क किनारे खड़ी थी। कुछ श्रद्धालु नीचे उतरकर खाना खा रहे थे, जबकि कुछ बस में ही थे। तभी डंपर ने पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि करीब 10-15 फीट बस आगे घिसटती हुई चली गई।भगदड़ मच गई। हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। ढाबे पर मौजूद लोग और गांव के लोगों ने बस से घायलों को निकालने की कोशिश की, लेकिन उन्हें जगह नहीं मिल पा रही थी।

पहले गिट्टी को निकाला गया, फिर फंसे लोगों को हादसे की सूचना पर पुलिस एम्बुलेंस के साथ मौके पर पहुंची। ओवरलोड डंपर को हटाने के लिए पहले एक क्रेन मंगाई गई। जब डंपर नहीं हटा तो तुरंत दूसरी क्रेन मंगाई गई। बस में भरी गिट्टी निकाली गई। नीचे दबे लोगों को बाहर निकाला। करीब 5 घंटे तक मौके पर डीएम उमेश प्रताप सिंह और एसपी अशोक कुमार मीणा भी रहे। रेस्क्यू ऑपरेशन चलवाया।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *