• Tue. Jun 18th, 2024

मेरठ में चलती कार में लगी आग,4 लोग कार में जिंदा जले पहचानना हुआ मुश्किल

Report By : Ankit Srivastav, ICN Network

मेरठ में चलती कार में जिंदा जले 4 लोगों की पहचान हो गई। मृतकों में मां-बेटे और 2 अन्य लोग हैं। हादसे की रोंगेट खड़ी करने वाली तस्वीर सामने आई है। चारों की बॉडी इस कदर जली कि कंकाल सिकुड़ चुके थे। कार के नाम पर केवल मैटल बॉडी बची है।

आग बुझाने पहुंचे फायर फाइटर प्रवीन कुमार ने बताया- कार आग का गोला बनी थी। एक किमी दूर तक जलने की बदबू फैली थी। आग बुझने पर टॉर्च जलाकर देखा तो रोंगटे खड़े हो गए। कंकाल इस पोजिशन में थे, जैसे बचने के लिए अंदर छटपटाए हों। पैर से कांच तोड़ने की कोशिश की।

मृतकों की पहचान गाजियाबाद के मानसरोवर पार्क लाल कुआं निवासी ड्राइवर ललित (20) और उनकी मां रजनी (40) के रूप में हुई है। ये दोनों मूल रूप से बुलंदशहर के मोहम्मदपुर कीरी के रहने वाले थे। वहीं, दो अन्य मृतकों में नोएडा के खेड़ा धरमपुरा निवासी राधा (29) और गाजियाबाद के तिबड़ा गांव निवासी कविता (50) हैं।

आग का गोला बनकर दहक रही थी कार परतापुर फायर स्टेशन के फायर फाइटर प्रवीन ने बताया सूचना मिलते ही हम लोग अपनी टीम लेकर निकले। डेढ़ किमी दूर से धुआं उठता दिख रहा था। मौके पर पहुंचे तो कार आग का गोला बनी थी। मांस जलने की तेज गंध के कारण वहां खड़ा होना मुश्किल था।

फायर कर्मी ने बताया कि आग इतनी भयंकर थी कि कार के शीशे प्रेशर से टूट चुके थे। कार में कंकालों और CNG सिलेंडर के अलावा कुछ नहीं मिला। सिलेंडर एकदम लाल अंगार हो चुका था। अगर हम लोग चंद सेकेंड और देरी से पहुंचते तो सिलेंडर ब्लास्ट हो जाता। सिलेंडर का तापमान उस वक्त 100 डिग्री से कहीं ज्यादा था। हम लोगों ने फौरन सिलेंडर कूल किया। वहां से लोगों को हटाया। पूरा रास्ता ब्लॉक करके डायवर्ट कर दिया।उन्होंने बताया- ड्राइवर का सिर पीछे की सीट की ओर और कमर का हिस्सा स्टीयरिंग से ऊपर था। पीछे की सीट पर भी दोनों कंकाल भी विंडो से कूदने वाली पोजिशन में मिले। इससे साफ है कि कार सवारों ने खुद को बचाने का पूरा जोर लगाया। कार की विंडो से कूदने की कोशिश की, लेकिन सेंट्रल लॉक खुला नहीं और सभी ने छटपटाते-छटपटाते दम तोड़ दिया।

लोगो ने बताया लपटें इतनी ऊंची थी लगा विस्फोट हुआ प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि भोला झाल के पास मेरी नर्सरी है। हम लोग अपनी नर्सरी पर बैठे थे। रात 9:15 बजे अचानक हमने देखा की रास्ता डायवर्ट किया गया है। हमें लगा कुछ हो गया है। मैं यहां आया तो पता चला कि कार में लोग जल गए हैं। पुलिस, प्रशासन की टीमें यहां थी। 4 लाशें गाड़ी में थीं।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *