• Sat. Jul 20th, 2024

फतेहपुर में ई-रिक्शा चुराने के दौरान जाग जाने पर दोस्तों ने की थी मां-बेटे की हत्या

Report By : Umesh Chandra Fatehpur (UP)

फतेहपुर जिले के बकेवर थाना क्षेत्र में हुई माँ बेटे की हत्या का पुलिस ने खुलासा करते हुए दो पडोसी युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से आला क़त्ल, खून से सने कपडे व चप्पल बरामद की हैं। पुलिस लाइन में घटना का खुलासा करते हुए एसपी उदय शंकर सिंह ने बताया कि ई रिक्शा चोरी करने के दौरान जाग जाने पर आरोपियों ने ईट से कूच कर माँ बेटे की हत्या कर दी थी। एसपी ने बताया कि 28 जून की रात को थाना क्षेत्र के रुसी गांव निवासी माया देवी व उसके बेटे सत्यम अवस्थी की घर के अंदर हत्या कर दी गई थी। मामले में मृतका के छोटे बेटे शिवम् अवस्थी की तहरीर पर रवि कश्यप और एक अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर पुलिस टीम घटना की जाँच पड़ताल कर रही थी। तभी ग्रामीणों की पूछ ताछ और जांच में पडोसी पंकज पटेल और शिवम् कुमार के नाम प्रकाश में आए। एसपी ने बताया कि आरोपी पंकज, शिवम् और मृतक राम जी ऊर्फ सत्यम अवस्थी आपस में दोस्त थे और रिक्शा चलाकर अपना जीविकोपार्जन करते थे। मृतक रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी कम पैसे में सवारियों को ले जाने के लिये तैयार हो जाता था, जिस बात को लेकर उसके दोस्त पंकज व शिवम नाराज रहते थे। इसी बात से क्षुब्ध होकर दोनों ने 28 जून को मृतक का ई- रिक्शा गायब कर देने का प्लान बनाया। 28 जून की रात 7 बजे शिवम, मृतक रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी व गांव का ही रामखेलावन तीनों शिवम के ई-रिक्शे से बीयर पीने देवमई चले गये। दुकान पर ही बीयर पीने के उपरान्त 09.30 बजे रात्रि गांव वापस आ गये। पंकज बीयर पीने नहीं गया था वह गांव में ही मौजूद था। रामखेलावन अपने घर चला गया तथा मृतक रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी घर के बाहर अपने ई-रिक्शे के पास सो गया। कुछ देर बाद आरोपी शिवम ने मोबाईल से पंकज से रिक्शा गायब करने की बातचीत की।रात्रि करीब 03.00 बजे जब सब सोये हुये थे तब पंकज व शिवम, दीवार फांदकर मृतक रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी के आंगन में दाखिल हो गये और चाभी खोजने लगे। इसी दौरान मृतक सत्यम की माँ माया देवी जाग गयी और आरोपियों को पहचान लिया। पकड़े जाने के डर से पंकज ने माया देवी का मुंह दबा दिया और शिवम ने पास पड़े ईट से प्रहार कर माया देवी की हत्या कर दी। इसी दौरान आहट पाकर बाहर सो रहा रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी जग गया और दरवाजा पीटने लगा। आरोपी दरवाजे की कुंडी खोलकर दरवाजे के पीछे छिप गये। जैसे ही सत्यम अन्दर आया उसको बाथरूम के पास खींच कर गिरा दिया।

पंकज ने रामजी उर्फ सत्यम अवस्थी का गला दाबे रखा और शिवम ने ईट से प्रहार कर सत्यम की भी हत्या कर दी। आरोपियों ने शव को खींचकर कमरे के अन्दर करके दरवाजा अंदर से बंद कर दिया। आरोपी दीवार फांदकर अपने घर चले गये। खून लगे कपडे व चप्पल को प्लास्टिक की पन्नी में अपने अपने घर में छिपा दिया। एसपी ने बताया कि नामित आरोपी की घटना के समय की लोकेशन गुजरात की पायी गई। छानबीन तथा साक्ष्य संकलन से नामित आरोपी रवि को क्लीन चिट दी गई। थाना पुलिस और प्रभारी इंटेलिजेंस विंग विद्या यादव और उनकी टीम ने आरोपियों को ग्राम धमोली बैठका चौराहे से गिरफ्तार किया। एसपी ने पुलिस टीम को 15 हजार रुपयों के नगद इनाम से पुरुस्कृत किया है।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *