• Fri. May 24th, 2024

Gautambudh Nagar : पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने लिया बड़ा एक्शन,नॉएडा थाना 49 प्रभारी संदीप सिंह चौधरी को किया लाईन हाजिर…

Report By : Ankit Srivastav (NCR)

Noida : Popular Youtuber और Bigg Boss OTT-2 के विजेता एल्विश यादव सहित 6 लोगों के खिलाफ नोएडा की थाना- 49 की पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। थाना-49 प्रभारी संदीप सिंह चौधरी लाइन हाजिर हो गए। पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने बड़ा एक्शन लिया। नोएडा पुलिस ने बताया कि थाना-49 प्रभारी को क्राइम पर रोक नहीं लगा पाने के कारण रिजर्व पुलिस लाइन का ट्रांसफर कर दिया गया है। नोएडा पुलिस ने शुक्रवार को रेव पार्टियों में सांप के जहर के कथित इस्तेमाल को लेकर एल्विश यादव के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पु‌लिस ने 5 संपरों को गिरफ्तार किया था। एल्विश यादव ने आरोपों का खंडन किया है। जांच में नोएडा पु‌लिस का सहयोग करने की इच्छा जताई थी।

एल्विश पर नोएडा में आयोजित एक रेव पार्टी के लिए, कथित तौर पर साँप के जहर की आपूर्ति करने का आरोप लगा लगा था। दरअसल, एक प्रतिबंधित साँप के साथ उनका वीडियो वायरल हुआ था। इसके बाद उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। लेकिन अब इस मामले में एक और मोड़ आया है। इस FIR में एल्विश यादव का नाम डालने वाले थाना प्रभारी पर एक्शन लिया गया है।

जहाँ एल्विश अपने ऊपर लगे आरोपों पर पहले ही सफाई दे चुके हैं। उन्होंने इन आरोपों को झूठा बताते हुए मानहानि का केस करने की बात कही थी, वहीं अब इस मामले में नोएडा सेक्टर-49 के थाना प्रभारी पर गाज गिरी है।

इस कार्रवाई पर अपर आयुक्त (कानून और व्यवस्था) आनंद कुलकर्णी ने कहा कि बढ़ते अपराध पर अंकुश न लगा पाने और विवेचना में लापरवाही बरतने की वजह से थाना प्रभारी पर कार्रवाई की गई है। नोएडा सेक्टर-49 के थाना प्रभारी संदीप चौधरी को लाइन हाजिर किया गया है।

इस मामले में आगे जानकर देते हुए उन्होंने बताया कि कोटा पुलिस द्वारा नोएडा पुलिस से संपर्क कर एल्विश यादव को पकड़ने की बात कही गई थी। जिसके जवाब में नोएडा पुलिस ने कहा कि एल्विश मामले की अभी जाँच चल रही है, जाँच के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।

हालाँकि इसके बाद राजस्थान पुलिस ने एल्विश यादव को छोड़ दिया था वहीं नोएडा पुलिस का कहना है कि एल्विश को न अभी आरोपित बनाया गया है और न ही क्लीन चिट दी गई है। मामले में जाँच जारी है आगे उसके अनुसार ही कार्रवाई होगी।

गौरतलब है कि इससे पहले शनिवार (4 नवंबर, 2023) को राजस्थान पुलिस द्वारा एल्विश यादव को हिरासत में लिए जाने के कुछ ही देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया था। मीडिया में बताया गया था कि एक चेकपॉइंट के पास उनकी कार को रोका गया था। उनकी पहचान ज़ाहिर होने के बाद कोटा पुलिस ने हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की थी। फ़िलहाल, एल्विश यादव अपने अगले प्रोजेक्ट्स की शूटिंग और प्रमोशन से जुड़ी गतिविधियों में व्यस्त हैं।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *