• Sun. Jul 21st, 2024

UP-बाँदा में खेल कूद प्रतियोगिता में छात्राओं ने समा बांधा ,बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम के तहत कार्यक्रम हुआ आयोजित

यूपी के बांदा में कैबिनेट मंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग बेबी रानी मौर्य और राज्यमंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग प्रतिभा शुक्ला साथ ही जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की उपस्थिति में बेटी बचाओ-बेटी पढाओ योजना के अन्तर्गत मण्डल स्तरीय खेल-कूद प्रतियोगिता ‘‘नारी शक्ति समागम’’ कार्यक्रम का आयोजन पुलिस लाइन मैदान बांदा में किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर एवं एयर बैलून छोडकर किया गया। बालिकाओं ने अपने प्रदर्शन से लोगों का दिल जीत लिया वहीं माताओं के रस्सी खींच खेल के प्रदर्शन में लोगों ने जमकर मजे लिए और खूब ठहाके लगाए।

वहीं कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग बेबी रानी मौर्य ने खेल-कूद प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाली बालिकाओं के साथ आयी हुई माताओं को प्रणाम करते हुए कहा कि मातायें बेटियों को आगे बढाने में बहुत बडा सहयोग कर रही हैं, जो बहुत ही प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री द्वारा खेलो इंडिया कार्यक्रम के द्वारा बालिकाओं को खेल-कूद के क्षेेत्र में आगे बढने के लिए प्रेरित किया हैं। उन्होंने कहा कि बेटियों के जन्म से लेकर विवाह तक की जिम्मेदारी लेते हुए केन्द्र व प्रदेश सरकार उन्हें समय-समय पर आवश्यक मदद कर रही है। उन्होंने कहा कि मण्डल स्तरीय इस प्रतियोगिता में मण्डलीय जनपद के जिलों की 641 बालिकाओं ने 13 विभिन्न खेलों में प्रतिभाग कर नारी शक्ति समागम का बृहद स्वरूप प्रदान किया है, जो कि अत्यन्त सराहनीय है।उन्होंने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं से ग्रामीण अंचल की बेटियों/महिलाओं को आगे बढकर अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर मिलता है। किसी भी प्रतियोगिता को जीतने के लिए पूरी मेहनत एवं लगन लगानी होती है। उन्होंने कहा कि महिला कल्याण के लिए केन्द्र सरकार नारी शक्ति वंदन बिल के द्वारा महिलाओं को आगे बढाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के हितों के लिए अनेकों जन कल्याणकारी योजनायें कन्या सुमंगला योजना, रानी लक्ष्मी बाई योजना, प्रधानमंत्री वंदन योजना, मिशन शक्ति योजना आदि योजनायें संचालित कर महिलाओं/बालिकाओं को सशक्त बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगले वित्तीय वर्ष से कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत मुख्यमंत्री द्वारा 25 हजार रूपये की धनराशि दी जायेगी और विकसित भारत संकल्प यात्रा के द्वारा भी गाॅव शहर के वंचितों लोंगो को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जा रहा है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि द्वारा विभिन्न खेल-कूद प्रतियोगिता में विजयी बालिकाओं को मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया तथा महिला पुलिस आरक्षियों द्वारा उत्कृष्ठ कार्य करने पर सम्मानित किया गया।वहीं विशिष्ट अतिथि उत्तर प्रदेश की राज्यमंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग प्रतिभा शुक्ला ने कहा कि बेटियां माता-पिता व गुरू का सदैव सम्मान करें तथा साक्षर के साथ-साथ शिक्षित भी बने ताकि किसी भी महिला/पुरूष को वृद्धाश्रम न जाना पडे। उन्होंने कहा कि बेटियां सब कुछ कर सकती हैं। अपनी नकारात्मक ऊर्जा को त्यागकर सकारात्मक विचारों व ऊर्जा के साथ आगे बढें। जीवन में आगे बढने के अपने चरित्र को उज्वल व मजबूत बनाये रखें। जीवन के उद्देश्य को पूरा करने के लिए दृढ इच्छा के साथ एक बडा सपना देखते हुए कार्य करें, सफलात अवश्य मिलेगी। प्रतिदिन एक अच्छा कार्य अवश्य करें, माॅ गायत्री के मंत्र का ध्यान रखें, जिससे उन्हें अंदर से शक्ति प्राप्त होगी। उन्होंने कहा कि बेटियां आगे बढेंगी तो देश विकास के पथ पर अग्रसर होगा।वहीं सदर विधायक प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि वर्ष 2014 से प्रधानमंत्री के नेतृत्व में नारी सशक्तिकरण के लिए बहुत सारे कार्यक्रम संचालित किये गये हैं तथा महिलाओं को 33 प्रतिशत का आरक्षण नारी शक्ति वंदन बिल के द्वारा दिये जाने हेतु पारित कराया गया है। उन्होंने कहा कि मण्डल स्तर पर बालिकाओं की इस तरह की खेल-कूद प्रतियोगितायें निरन्तर आयोजित की जानी चाहिए, जिससे कि उन्हें खेल-कूद में अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिल सके और वे आगे बढ सकें। उन्होंने कहा कि बालिकायें हर क्षेत्र में तेजी से आगे बढ रही हैं। उन्होंने इस कार्यक्रम के आयोजन पर आयुक्त एवं जिलाधिकारी के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रमों का शतत् कार्यक्रम कराये जाते रहें। नरैनी विधायक ओममणि वर्मा ने कहा कि बेटियां किस प्रकार आत्मनिर्भर व स्वावलम्बी बनें, इसके लिए सरकार ने विभिन्न कार्यक्रम एवं योजनायें महिला हितों में संचालित कर उन्हें आगे बढाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की खेल-कूद की प्रतियोगिताओं से बालिकाओं का मानसिक एवं शारीरिक विकास होने के साथ उन्हें प्रतिस्पर्धा में आगे बढने का अवसर मिलता है।आयुक्त चित्रकूटधाम मण्डल बांदा बालकृष्ण त्रिपाठी ने कहा कि आज का दिन बहुत ही गौरव पूर्ण है, जिसमें मण्डल के चारों जनपदों की बालिकाओं ने बडे उत्साह के साथ ही इस प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा पुरूषों के सापेक्ष महिलाओं का अनुपात कम होने पर वर्ष 2014 में बेटी बचाओं-बेटी पढाओ कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया, जिसमें बेटियों को बचाने के साथ शिक्षित किया जा रहा है। इस कार्यक्रम के द्वारा अब प्रतिवर्ष बालिकाओं के अनुपात में वृद्धि हो रही है। सरकार की नीतियां महिलाओं एवं बालिकाओं के विकास एवं उन्हें सशक्त बनाने के लिए महत्वपूर्ण है, इनका लाभ अवश्य प्राप्त करें। कई योजनाओं में महिला मुखिया को ही प्रमुख बनाया गया है। उन्होंने कहा कि बालिकाओं के जन्म होने पर जन्मोत्सव मनाया जाता है तथा बालिकाओं के उच्च अंक प्राप्त करने पर सम्मानित किया जाता है। सरकार द्वारा महिलाओं की विधिक सहायता हेतु वनस्टाप सेन्टर भी संचालित किया गया है, जिसमें विधिक जानकारी के साथ रहने की भी व्यवस्था है। उन्होंने कई महिलाओं द्वारा विभिन्न क्षेत्रों किये गये उत्कृष्ट कार्यों का जिक्र करते हुए कहा कि बालिकायें किसी भी क्षेत्र में पीछे नही हैं। हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा के अनुसार निरन्तर आगे बढ रही हैं। उन्होंने सभी बालिकाओं को शुभकामनायें देते हुए कहा कि बेटियां शक्ति, समृद्धि व प्रगतिशील बने।जिलाधिकारी दुर्गा शाक्ति नागपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री की प्रेरणा से बेटी बचाओ-बेटी पढाओ के अन्तर्गत नारी शक्ति समागम कार्यक्रम का पहली बार आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन से छात्राओं में आत्मविश्वास व फिजिकल फिटनेश के साथ खेलों के प्रति रूझान बढेगा। इस समागम में बालिकाओं के साथ-साथ माताओं की प्रतियोगिता रस्साकसी का भी आयोजन किया गया है, बच्चियों को आगे बढाने में माताओं का विशेष सहयोग रहता है।खेल-कूद प्रतियोगिता में एथलीट में जूनियर वर्ग 100 मीटर में शजल चित्रकूट प्रथम, रक्षा त्रिपाठी बांदा द्वितीय, हिमांशी हमीपुर तृतीय। शूटिंग प्रतियोगिता में बांदा से कौशिकी यादव प्रथम, सिद्धी शर्मा द्वितीय, अम्बिका पुरवार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 400 मीटर में मनोरमा यादव प्रथम, हिमांशी द्वितीय, खुशी तृतीय। 800 मीटर दौड में आशा प्रथम, उर्मिला द्वितीय, कंचन तृतीय। बैडमिंटन एकल में श्रेेया प्रथम, जारा तनवीर द्वितीय। बाॅलीबाल में चित्रकूट विजेता, बांदा उप विजेता रहे। ऊंची कूद में अंशिका प्रथम, चन्द्ररेखा द्वितीय, हर्शिता तृतीय पर रहीं। कबड्डी में बांदा विजेता, चित्रकूट उप विजेता इसके साथ अन्य प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को मेडल प्रदान किये गये।कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष सुनील सिंह पटेल, नगर पालिका अध्यक्ष मालती बासू, ब्लाक प्रमुख तिन्दवारी दीपशिखा सिंह, एवं स्वर्ण कुमार सोनू ब्लाक प्रमुख बडोखर, सांसद प्रतिनिधि शक्ति सिंह, वंदना गुप्ता महिला मोर्चा सहित पुलिस अधीक्षक अंकुर अग्रवाल, अपर पुलिस अधीक्षक, समस्त अपर जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, प्रतिभागी बालिकायें एवं अध्यापिकायें तथा जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *