• Mon. Feb 26th, 2024

UP-सुल्तानपुर में ATM सॉफ्टवेयर से छेड़छाड़ कर करोड़ो रूपये निकालने वाले गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश

यूपी की सुल्तानपुर जिले की पुलिस ने एटीएम सॉफ्टवेयर की हेराफेरी से करोड़ो रूपये निकालने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए गिरफ्तार किया है।कूरेभार थाने एवं साइबर सेल के संयुक्त कार्यवाई में निरीक्षक आलोक सिंह ने एक राष्ट्रीयकृत बैंक के ए टी एम एवं बंच नोट एक्सेप्टर मशीन के सॉफ्टवेयर से छेड़छाड़ कर एक करोड़ 36लाख रुपए निकालने वाले अंतर्जनपदीय गिरोह का पर्दाफाश कर मुख्य अभियुक्त को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

एटीएम/बीएनए मशीनों के साफ्टवेयर में छेड़छाड़ करके भारी मात्रा में पैसों का फ्राड करने वाले अन्तर्जनपदीय गिरोह के 02 सदस्य पूर्व में गिरफ्तार किये गये थे।जिन पर कूरेभार थाने में पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 238 भारतीय दण्ड विधान की धारा 409,419,420,468,471,504,506 IPC व 65 IT ACT में मुकदमा दर्ज किया गया था।
पुलिस अधीक्षक ग्रामीण विपुल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि अभियुक्तों से पूछताछ के दौरान पता चला कि एटीएम/बीएनए मशीनों में रुपए लोड व अपलोड करने वाले सिक्योर वैल्यू इंडिया प्राइवेट लिमिटेड का कर्मी अनूप यादव निवासी संडीला जिला हरदोई की संलिप्तता पाई गई,उसी के द्वारा दूसरे खाते में रुपए भेज कर मशीनों से गिरोह अन्य सदस्यों के द्वारा नकदी निकाल लिया जाता था।इसका खुलासा तब हुआ जब बी एन ए मशीन के इंटर्नल डाटा सेवर में अन्य अभियुक्तों की फोटो व छेड़ छाड़ को अपने कैमरे में कैद कर लिया था।पुलिस ने इन अभियुक्तों से अब तक साढ़े बारह लाख रुपए की बरामदगी कर ली है।
मुख्य अभियुक्त अनूप यादव को पुलिस से मुजेश तिराहे से गिरफ्तार कर लिया वही इसके पूर्व इसी मामले में गिरफ्तार किए गए अभियुक्त संजीव सिंह पुत्र राजेंद्र प्रताप‌सिंह निवासी भौंसा धनंजई थाना कूरेभार एवं
जयशंकर तिवारी, पुत्र ओम प्रकाश तिवारी निवासी फतेहपुर थाना‌ धनपतगंज के निवासी है।इनसे की गई पूछताछ के आधार पर पुलिस प्रदेश के अन्य हिस्सों में हुई एटीएम हैकिंग में इनकी संलिप्तता की भी जांच कर रही है।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *