• Mon. Jun 17th, 2024

जालौन में दो मित्रों ने की आत्महत्या, ओशो का प्रवचन सुनने के बाद आत्महत्या करने का लगाया स्टेटस

Report By : Rishabh Singh, ICN Network

जालौन में दो दोस्तों ने मंगलवार देर रात जहर खाकर जान दे दी। मरने से पहले दोनों ने ओशो के प्रवचन सुना था। दोनों ओशो से काफी प्रभावित थे। उन्होंने आत्महत्या करने से पहले अपने फोन पर स्टेटस लगाया था- मृत्यु ही सत्य है। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

घटना कालपी कोतवाली क्षेत्र के कर्बला के मैदान की है। यहां शनिवार देर रात को कालपी कोतवाली क्षेत्र के टरननगंज के नुमाइश मैदान इलाके के रहने मेडिकल संचालक अमन वर्मा (23) उसके साथी आलमपुर के रहने वाले बालेन्द्र पाल (21) ने कर्बला के मैदान में जहर खाकर जान दे दी, जिसमें बालेंद्र की मौके पर मौत हो गई।

जबकि अमन की हालत बिगड़ने लगी तो उसने अपने परिजनों को फोन करके सूचना दी। जिसके बाद परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और दोनों को तत्काल इलाज के लिए कालपी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, मगर इलाज होने से पहले मौत हो गई।

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान पता चला कि अमन और बालेंद्र में गहरी दोस्ती थी, अमन मेडिकल स्टोर का संचालन करता था और शादी शुदा था, जबकि बालेंद्र की शादी नहीं हुई थी, और बालेंद्र, अमन के पास आता जाता रहता था और दोनों ओशो के प्रवचन को सुनते थे और उनसे काफी प्रभावित थे। दोनों मेडिकल स्टोर पर ही बैठते थे बालेंद्र, अमन की मदद करता था, और ओशो के प्रवचन से काफी प्रभावित थे।

घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान पता चला कि अमन और बालेंद्र में गहरी दोस्ती थी, अमन मेडिकल स्टोर का संचालन करता था और शादी शुदा था, जबकि बालेंद्र की शादी नहीं हुई थी, और बालेंद्र, अमन के पास आता जाता रहता था और दोनों ओशो के प्रवचन को सुनते थे और उनसे काफी प्रभावित थे। दोनों मेडिकल स्टोर पर ही बैठते थे बालेंद्र, अमन की मदद करता था, और ओशो के प्रवचन से काफी प्रभावित थे।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *