• Wed. Jul 24th, 2024

UP- कन्नौज के अस्पताल में वायरल इंफेक्शन बच्चों के मरीज़ों की हुई भरमार,ठंड से बचने के लिए गर्म पानी का करें इस्तेमाल

यूपी के कन्नौज में ठंड के मौसम का प्रकोप इन दिनों सभी को सता रहा है। सर्द मौसम में सर्दी लग जाने में खांसी, जुकाम, बुखार व बच्चों में डायरिया जैसी गंभीर बीमारियां हो रही है। इतना ही नही सबसे ज्यादा परेशानी इस मौसम में सांस और हार्ट के मरीजों को भी होती है। जिसको लेकर कन्नौज के जिला अस्पताल में लगातार मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। जिसको लेकर जिला अस्पताल के डाक्टरों ने इस सर्दी के मौसम में सावधानी बरतने की बात कहते हुए बीमारियों से बचाव के उपाय भी बताये है। आइये जानते हैं क्या है डाक्टर का कहना।

जिला अस्पताल में कार्यरत डाॅक्टर भूपेश ने बताया है कि सर्दी के मौसम में सबसे ज्यादा वायरल इन्फेक्शन के मामले आते हैं। जिसमें कोल्ड से लेकर निमोनिया तक के ज्यादा चान्सेज होते है। बांकि जो कुछ मरीज होते है हमारे सीओक्रेटिव के मामले होते है जो सांस से जुड़ी हुई बीमारियां होती है। इसके बावजूद आजकल कोल्ड डायरिया के भी पेसेंट आ रहे है।
दूसरा इसमें रोटावायरस भी चल रहा है जिसमें बच्चों को लूज मोशन हो रहे है यह भी मरीज आ रहे है। बांकि आजकल स्ट्रोक के पेसेंट आ जाते हैं जो हाई बीपी ब्लडप्रेशर, स्ट्रोक, हाॅर्टअटैक के मरीज यह बढ़ जाते हैं। ठंड जो खून की धमनियां होती है उनको संकुचित कर देता है। तो जो 40-50 साल की उम्र के ऊपर के लोग है, जिनको बीपी है, सुगर है, कोई पुरानी बीमारी से ग्रस्त है तो उनको इस मौसम में काफी सावधान रहना पड़ता है, क्यों कि ब्रेन स्ट्रोक, फालिज, हार्टअटैक इन सभी दिक्कतों से परेशानी होती है।

डाॅ0 भूपेश का कहना है कि अगर ठंड में बीमारियों सें बचना है तो पहले तो सर्दी का बचाव करें। बांकि खाने पीने में अपना सावधानी रखनी है। सबसे ज्यादा ठंड से उन लोेगों को बचाव करना है जो लोग सुबह और शाम बाहर जाते हैं या मार्निंग वाॅक करते है, उनको थोड़ा ठंड में बाहर नही निकलना चाहिए और ठंड से बचने के लिए प्रापर कपड़े पहनकर ठंड से बचाव करें, दूसरा जो दवाइयां है, जो पुरानी बीपी की दवाइयां खा रहे है, सुगर की दवाइयां खा रहे हैं तो वह समय पर खायें, बहुत दिनों से अगर डाक्टर को नही दिखाया है तो जाकर पहले डाक्टर की सलाह लें कि आगे इस मौसम में क्या करना है। खाने में ऐसी चीजें खायें जो कि आपकी बैलेंस डायट हो और आपका जिसमें हाई प्रोटीन हो और समय पर खाना खायें जिसमें सुगर के मरीजों को बहुत ख्याल रखना पड़ेगा खाने-पीने में कि वह क्या खा रहे है। बाहर की चींजे फास्ट फूड न खायें। जो आपकी ऐरिया में तेल होता है जो फास्फोरस होता है जिसको कहते है ट्रांसफेड जो गरम करके तेल बहुत नुकसान होता है, तो ऐसे चीजों से बचें। मुख्य रूप से आप रगुलर दवाइयां खायें और क्लोज कपड़े प्रापर्ली पहने, और खाने पीने में हाई प्रोटीन डायट का न सेवन करें इससे आप बीमारियों से बच सकते है।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *