• Mon. Feb 26th, 2024

UP-मुजफ्फरनगर में 51वी राज्य स्तरीय बाल विज्ञान वैज्ञानिक प्रदर्शनी का हुआ आयोजन

मुज़फ्फरनगर। जिला विद्यालय निरीक्षक मुज़फ्फरनगर
राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान उ0प्र0 प्रयागराज के निर्देशन में माध्यमिक शिक्षा विभाग मुज़फ्फरनगर द्वारा 51 वीं राज्य स्तरीय बाल विज्ञान वैज्ञानिक प्रदर्शनी 2023 का आयोजन एस.डी. गर्ल्स इण्टर कॉलेज झाँसी की रानी मुज़फ्फरनगर में किया गया|
प्रदर्शनी का शुभारम्भ जिला विद्यालय निरीक्षक मुज़फ्फरनगर डॉ धर्मेन्द्र शर्मा ,प्रधानाचार्या डॉ सविता सिंह व प्रधानाचार्य डॉ त्रिवेंद्र kuar द्वारा माँ सरस्वती के सम्मुख दीप प्रजव्ल्लित करके किया गया |
जिला विद्यालय निरीक्षक मुज़फ्फरनगर डॉ धर्मेन्द्र शर्मा ने कहा कि विज्ञानं प्रदर्शनी का आयोजन नियमित अंतराल पर होते रहना चाहिए | विज्ञानं प्रदर्शनी आयोजित करने का उद्देश्य विद्याथियों को उनके रचनात्मक विचारों को प्रदर्शित करने का अवसर देना है |प्रदर्शनी व् कार्यशालाओं में नियमित प्रतिभाग करने से विद्यार्थियों में वैज्ञानिक भावना और जिज्ञासा का विकास होता है|विज्ञानं कार्यक्रमों के आयोजित करने का एक अन्य महत्वपूर्ण उद्देश्य यह भी है कि बच्चों को अपने आस पास हो रहे क्रियाकलापों में विज्ञान की उपस्थि‍ति का अनुभव होने लगता है और वे भौतिक एवं सामाजिक पर्यावरण से सीखनें की प्रक्रिया को जोड़कर ज्ञान प्राप्त करने लगते हैं तथा अनेक समस्याओं का समाधान भी कर सकते हैं

कार्यक्रम प्रभारी भूपेन्द्र कुमार ने कहा कि विज्ञान प्रदर्शनी के दौरान, प्रतिभागी विद्यार्थी और अध्यापक मॉडलों एवं प्रदर्शों के माध्यम से अपनी वैज्ञानिक प्रतिभाएं ही नहीं दिखाते अपितु विज्ञान प्रदर्शनी विद्यार्थियों के लिए एक मूल्यवान अनुभव होता है, इससे उन्हें विज्ञान के बारे में अधिक जानने, अपनी वैज्ञानिक सोच विकसित करने, और विभिन्न कौशलों को सीखने में मदद मिलती है। साथ ही वे आपसी मेल-मिलाप और विचार-विमर्श कर एक दूसरे से भी सीखतें है|
प्रधानाचार्या डॉ सविता सिंह ने कहा कि वर्तमान परिवेश एवं भविष्य में आने वाली ज्वलंत समस्याओं के समाधान के लिए विद्यार्थियों में नई सोच व नई खोज को विद्यार्थियों में विकसित करना आवश्यक है | उन्होंने स्कूली बच्चों के मॉडल की सराहना की| उन्होंने बताया कि 51 वीं राज्य स्तरीय बाल विज्ञान वैज्ञानिक प्रदर्शनी 2023 का मुख्य विषय समाज के लिए विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी था| विद्यार्थियों द्वारा स्वास्थ्य,पर्यावरण हेतु जीवन शैली, कृषि, संचार एवं परिवहन तथा कम्प्यूटेशनल सोच उपविषयों पर जूनियर व सीनियर वर्गों में स्थिर व क्रियाशील मॉडल का प्रदर्शन किया गया |प्रदर्शनी में जिले के 95 माध्यमिक विद्यालयों के 290 छात्र छात्राओं व 80 शिक्षक शिक्षिकाओं ने प्रतिभाग किया | प्रदर्शनी में छात्र छात्राओं के साथ साथ विज्ञान शिक्षक शिक्षिकाओं को भी अपने पठन पाठन मे प्रयोग किए जाने वाले नवाचारी टी एल एम् का प्रदर्शन कर सहभागिता करने का भी अवसर दिया गया |
स्थिर मॉडल जूनियर वर्ग में ऋतिक ,प्रिंस, शगुन,ईशा व कीर्ति ने प्रथम तथा मुस्कान,प्रियांशी ,कृष बंसल , नगमा व वंशिका ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया |क्रियाशील मॉडल जूनियर वर्ग में काम्या, सुमित , वंशिका पाल, निशा पाल व वंशिका ने प्रथम तथा अंशिका जैन , मुकुल, श्रेया चंद्रा, लाविका व गौरव ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया| क्रियाशील मॉडल सीनियर वर्ग में तनु ,गौरव ,आयुषी चौधरी , अफसा अंसारी व अक्षिता ने प्रथम तथा नीशू, विष्णु कुमारी,वरदान,पायल व साधिया परवीन ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया |
विज्ञान शिक्षकों ने विभिन्न वर्गों में प्रथम स्थान प्राप्त किया| सभी वर्गों में प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले बाल वैज्ञानिक व शिक्षक मण्डल स्तरीय प्रतियोगिता में जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे|
भूपेन्द्र कुमार ,कपिल देव त्यागी,राजकुमार जैन ,मदन गोपाल,अंकित कुमार,देवेंद्र कुमार, पारुल रानी,रेणु भारती, अनिल कुमार आदि का सहयोग रहा|

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *