• Fri. Feb 23rd, 2024

Bihar Politics: PM मोदी को धन्यवाद, परिवारवाद पर तंज… इन 5 सिग्नल में छिपा है नीतीश के ‘पाला बदलने’ का राज !

ByICN Desk

Jan 26, 2024

Report By: Himanshu Garg (Bihar Politics)

कड़ाके की ठंड में भी बिहार की सियासत का तापमान हाई है। कयास ये लगाए जा रहे है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कभी-भी NDA में शामिल हो सकते है। लेकिन बड़ी बात ये है कि नीतीश कुमार के पाला बदलते ही बिहार में बना महागठबंधन टूट जाएगा, जिसका असर साफ 2024 लोकसभा चुनाव पर पड़ेगा। बता दें महागठबंधन में लालू यादव की आरजेडी, नीतीश कुमार की जेडीयू, कांग्रेस और लेफ्ट पार्टियां शामिल हैं। राजनीतिक बाजार में चर्चा ये है कि नीतीश फिर से NDA में शामिल हो सकते हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पाला बदलने की खबर जैसी ही मीडिया में वायरल हुई तो दिल्ली में कुर्सी पर बैठे नेताओं की कुर्सी हिल गई। गुरुवार रात ही (25 जनवरी) BJP का केंद्रीय नेतृत्व एक्टिव हो गया। बिहार बीजेपी अध्यक्ष सम्राट चौधरी और अन्य वरिष्ठ नेताओं को तत्काल ही दिल्ली बुलाया गया और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के निवास पर बैठक बुलाई गई। बैठक में BJP अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल हुए। वहीं, नीतीश के बीजेपी के साथ जाने की चर्चा इसलिए भी हो रही हैं, क्योंकि पिछले कुछ दिनों से उन्होंने पाला बदलने का सिग्नल देना शुरू कर दिया था। तो चलिए आपको बताते है ऐसा 5 सिग्नल…

कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न
हाल ही में केंद्र की मोदी सरकार ने कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने का ऐलान किया। जिसके बाद नीतीश कुमार ने तत्काल ही ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद कहते हुए कहा कि कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिया जाना खुशी की बात है। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद कहना चाहूंगा।

भारत जोड़ो न्याय यात्रा शामिल न होना
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’ लेकर बिहार आ रहे हैं। उनकी यात्रा पूर्णिया से गुजरने वाली है, जहां नीतीश के शामिल होने की उम्मीद थी। हालांकि, उस दिन बिहार सीएम अन्य कार्यों में व्यस्त रहने वाले हैं, जिससे वह यात्रा में शामिल नहीं हो पाएंगे।

बीजेपी को लेकर बयानबाजी नहीं करना
बता दें पिछले कुछ दिनों से जेडीयू नेता बीजेपी को लेकर ज्यादा बयानबाजी नहीं कर रहे है। अगर वे कुछ कह भी रहे हैं, तो उसमें नरमी देखने को मिल रही है। गौर करने वाली बात ये है कि जेडीयू के नेता और बिहार के भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने हाल ही में ये तक कहा कि अमित शाह ने कभी ये नहीं कहा है कि नीतीश के लिए दरवाजे बंद हो गए हैं।

रैली को रद्द किया
दरअसल, झारखंड के रामगढ़ में 4 फरवरी को नीतीश कुमार की रैली होने वाली थी, जिसे रद्द कर दिया गया है। इस बात की भी जानकारी नहीं दी गई, आखिर झारखंड दौरा रद्द करने के पीछे की वजह क्या है।

बेतिया में PM मोदी की रैली
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बिहार के बेतिया में 4 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक रैली करने वाले हैं, जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल होंगे। इस रैली में नीतीश कुमार पीएम मोदी संग मंच साझा करने वाले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *