• Fri. Jun 14th, 2024

काशी में मोदी और इंडी गठबंधन के लिए अलग अलग यज्ञ शुरू, आचार्य नेताओं की तस्वीर रख कर रहे है पूजा

Report By : Rishabh Singh, ICN Network

वाराणसी में सातवें फेज में 1 जून को वोटिंग होनी है। इस धर्म नगरी में BJP और इंडी एलायंस को जिताने के लिए पूजा पाठ और अनुष्ठान शुरू हो गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और BJP की बड़ी जीत के लिए वाराणसी में महायज्ञ किया गया। वहीं, इंडी गठबंधन के लिए 4 जून तक लगातार शिव मंदिर में जलाभिषेक का अनुष्ठान शुरू कर दिया गया है।

सबसे पहले अस्सी घाट पर निर्मोही अखाड़े की 1008 किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी ने महायज्ञ का अनुष्ठान शुरू कराया है। यहां पर उनके साथ देशभर के धार्मिक संगठनों और किन्नर समुदाय के भी लोग साथ में थे।

दूसरी ओर, अस्सी स्थित मछली बंदर मठ में I.N.D.I. गठबंधन की जीत के लिए भी लोग पूजा पाठ करना शुरू कर दिए हैं। शिव के मंदिर में 4 जून को चुनाव रिजल्ट आने तक लगातार जलाभिषेक और पूजा का काम चलता रहेगा।

BJP किए महायज्ञ करने वालीं किन्नर संत हिमांगी सखी का कहना है कि ये महायज्ञ वाराणसी सीट से बड़े अंतर जीतने के साथ ही पूरे देश में रिकॉर्ड मतों से विजय पताका लहराने के लिए किया गया है। इस यज्ञ में वैदिक मंत्रों के जाप के साथ ही आहुति भी दी जा रही है। भरी गर्मी के बीच दूर-दराज से आए लोग यहां पर पूजा में शामिल हुए।

किन्नर महामंडलेश्वर हिमांगी सखी ने वाराणसी सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। लेकिन, बाद में उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया। PM मोदी के काशी में हुए रोड शो के दौरान हिमांगी सखी ने उन्हें शॉल भेंट किया था। जिसे मोदी ने स्वीकार किया और दोनों लोगों ने एक-दूसरे का प्रणाम भी किया था। इसके बाद हिमांगी सखी PM मोदी को चुनाव जिताने के लिए अपने फॉलोवर्स के साथ कैंपेनिंग करने लगीं।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *