• Fri. Feb 23rd, 2024

UP- श्रावस्ती के टनल में फंसे मजदूर सकुशल बाहर निकले, परिवार के चेहरों पर लौटी रौनक

यूपी के श्रावस्ती जनपद के थारू बाहुल्य गांव मोतीपुर कला के 6 मजदूर बीते 12 नवंबर को उत्तरकाशी में टनल धसने के चलते 41 मजदूरों के साथ टनल में फंस गए थे।वहीं रेस्क्यू टीम मजदूरों को निकालने के लिए लगी हुई थी।आखिरकार 17वें दिन टनल के जो 41 मजदूर हैं उनके साथ श्रावस्ती ज़िले के रहने वाले 6 मजदूर भी सुरक्षित बाहर आ गए हैं।वहीं मोतीपुर कला में सभी के परिजनों में काफी खुशी देखने को मिल रही है।परिवार ने मिलकर दीपावली मनाई आतिशबाजी भी पूरे गांव में खुशी का माहौल है।परिवार के लोगो के चेहरों पर दुबारा रौनक लौट आई है।

श्रावस्ती जनपद से उत्तरकाशी टनल हादसे के दूसरे दिन ही आपदा विशेषज्ञ अरुण कुमार मिश्रा को जिलाधिकारी कृतिका शर्मा के द्वारा उत्तरकाशी रवाना किया गया था। जो बराबर वहां नजर बनाए हुए थे और परिवार को सूचनाये भी पहुंचा रहे थे।इस दौरान सभी 6 परिवारों के जो परिजन थे वह भी उत्तरकाशी में कुछ दिनों के बाद रवाना हो गए थे।जो इस वक्त उत्तरकाशी में ही मौजूद हैं वही इस दौरान श्रावस्ती के मोतीपुर कला के मजदूर सत्यदेव राममिलन संतोष कुमार राम सुंदर जयप्रकाश और अंकित सकुशल सुरक्षित बाहर निकाल लिए गए हैं।जिसके चलते श्रावस्ती के 6 घरों के परिजनों के चेहरे पर भी उदासी दूर हुई है।वही अपनों के सुरक्षित बाहर निकलने से सभी के चेहरे पर खुशियां झलक रही है। पूरे गांव में लोगों ने दीप जलाकर इस खुशी का इजहार किया है।

दरअसल बीते 17 दिनों से श्रावस्ती का मोतीपुर कला गांव अपनों के आने का इंतजार कर रहा था मजदूरों की मां उनकी पत्नी पिता भाई और पूरा परिवार हर कोई हादसे की खबर सुनते ही दुखी हो गया था। हालांकि जिला प्रशासन के द्वारा लगातार मजदूरों से संपर्क किया जा रहा था उन्हें हौसला दिया जा रहा था की सभी लोग सुरक्षित हैं।वही जब मजदूरों की रिकॉर्डिंग और उनका वीडियो पहली बार परिवार तक पहुंचा तो उनमें अपनों के सुरक्षित होने की आस जगी थी।वही आखिरकार टनल के सभी 41 मजदूरों के साथ में श्रावस्ती के 6 मजदूर भी सुरक्षित टनल से बाहर आ गए। बताते चले कि पूरे गांव में रात से ही दीप जलाया जा रहा खुशियां मनाई जा रही लोग मिठाई बांट रहे एक दूसरे के गले मिल रहे।

By admin

Journalist & Entertainer Ankit Srivastav ( Ankshree)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *